किस तरह से मोबाइल की लत करती है हमारी सेहत को ख़राब

0
226
Mobile Addiction is Harmful for health
हमारी ज़िन्दगी की लाइफलाइन बन चुका मोबाइल, किस तरह से करता है हमारी सेहत को ख़राब ?

पुराने ज़माने में लोगो का जीवन बिलकुल साधारण होता था। जब न उनके घर में ठन्डे पानी के लिए फ्रिज होता था,गर्मी से आए तो न एयर कंडीशनर होता था,न टीवी था और न ही आज के ज़माने की सबसे जरुरी चीज़ मोबाइल फ़ोन था,ना ही आज के दौर में मोबाइल फ़ोन की आत्मा कहे जाने वाला इंटरनेट था जो आज इतना जरूरी हो गया है की इसके बिना हमारे ज़िन्दगी भी अधूरी लगने लगती है। मोबाइल ने सबकी ज़िन्दगी को इतना बदल दिया है की अगर आधा घंटा भी हम इनसे दूर रहे तो हम बेचैन हो जाते है। यह कहना गलत नहीं होगा की मोबाइल फ़ोन ने हमारे जीवन को आसान बनाया है।

कहते है हर चीज़ के दो पहलू होते है एक अच्छा और एक बुरा,जहाँ मोबाइल फ़ोन ने हमारे जीवन को सुविधापूर्ण बनाया है वही इसने हमें इसका एडिक्ट भी बनाया है। आज युवा से लेकर बच्चो तक मोबाइल का इस्तेमाल करने लगे है।महंगे मोबाइल फ़ोन लेने की इच्छा सबकी होती है पर क्या आपको पता है की मोबाइल का ज्यादा इस्तेमाल हमारी सेहत के लिए कितना नुकसानदायक होता है?

फ़ोन का उपयोग करते समय हमें पता नहीं लगता की कब हमें इसकी लत लग जाती है और फोन की लत भी लोगों मे ड्रग्स की लत से कम नहीं होती है। हर समय फ़ोन से चिपके रहना,चाहे कितना भी थके क्यूं ना हो पर हर 10 मिनट में हम अपना फोन जरूर चेक करेंगें यह भी एक तरह की लत है।

स्वीडन में हुए एक शोध के मुताबिक यह तनाव का भी कारण बनता है। खासतौर से महिलाओं में ये तनाव का प्रमुख कारण है। रात में बिस्तर पर सोने समय भी फोन की स्क्रीन पर ताकते रहते हैं तो ये आपकी नींद खराब कर सकता है। फोन के लगातार प्रयोग से आंखों पर भी उल्टा प्रभाव पड़ रहा है। फोन की स्क्रीन कम्प्यूटर की स्क्रीन से छोटी होती है जिसकी वजह से मैसेज पढ़ने के लिए आंखों पर ज्यादा जोर देना पड़ता है। मोबाइल फोन एक सामान्य व्यक्ति की फोकस करने की जो क्षमता होती है उसे भी प्रभावित करता है। जिस वजह से कई देशों में ड्राइविंग करते वक्त इसका प्रयोग पूरी तरह से बंद है।

रिसर्च बताते हैं कि फोन से निकलने वाला रेडिऐशन शरीर पर बुरा असर डालता है। २०१३ कि रिपोर्ट्स के अनुसार फोन से प्रयोग से रक्त चाप बढ़ जाता है। ऐसे में दिल की कई बीमारियां घेर लेती है। फोन के एल्कोट्रोमैग्नेट किरणें कई खतरों को बुलावा देती है।फोन की वजह से किसी भी काम को करने में जरुरत से ज्यादा समय लगता है।बहुत देर तक फोन पर बात करना खतरनाक हो सकता है। ये सुनने की क्षमता पर सीधे असर डालता है।

साधारण से दिखने वाला मोबाइल जहाँ हमारे जीवन को सुविधापूर्ण बनाता है दूसरी और कही न कही ये हमारी स्वास्थय पर भी असर करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here