pehredaar piya ki ban

‘पहरेदार पिया की’ सीरियल की कहानी दर्शकों की कसौटी पर खरी नहीं उतर रही
है, इसकी खास वजह यह है कि इसमें 9 साल का दूल्हा 18 साल की दुल्हन है
जिसमें  यह शादी न तो प्यार के चलते होती है न ही किसी समझौते के चलते
बल्कि लड़के के पिता को मरते समय दिए गए वचन के जरिए होती है, लड़की उस
लड़के का जिन्दगी भर के लिए पहरेदार बनने का वादा उस लड़के के पिता से
मरते समय करती है।

इस सीरियल के मुख्य किरदारों में  राजकुमार रतन सिंह के किरदार में बाल
कलाकार अफान खान है, वहीं 18 साल की लड़की राजकुमारी दिया सिंह का किरदार
तेजस्वी प्रकाश अयंगंकर निभा रही है। यह सीरियल अपने शुरुआती एपिसोड  से
विवादों में आ गया दर्शकों का गुस्सा उस समय देखा गया, जब हाल ही में आए
कुछ एपिसोड में जब सुहागरात और दूसरे सीन्स में छोटे दूल्हे राजकुमार रतन
सिंह को अपनी पत्नी की मांग में सिंदूर लगाया जाना दिखाया गया ।

इस सीरियल  पर बैन लगाने के लिए एक ऑनलाइन पेटीशन फाइल की गई,  पेटीशन
मानसी जैन नाम की एक महिला के जरिए फाइल की गई हैं और इसमें शो को अप्रिय
और पथभ्रष्ट बताया गया है। साथ ही इसमें यह भी कहा गया है कि इस शो का
प्रभाव दर्शकों के मन में हमेशा के लिए जगह बना लेगा और हम नहीं चाहते
हमारे बच्चें इस प्रकार के शो से प्रभावित हों। इस ऑनलाइन पेटीशन में
सूचना एंव प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी को सूचित करते हुए लिखा गया है और
इसे अब तक 50 हजार से ज्यादा लोगों का सपोर्ट मिल चुका है। अब देखना यह
होगा कि इस सीरियल को लेकर सरकार क्या एक्शन लेगी, फिलहाल जो भी यह
सीरियल को लेकर दर्शकों में खास रुचि कम और गुस्सा ज्यादा देखने को मिल
रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here