शराब से कैंसर, कितना सच कितनी अफ़वाह?

0
305
ALCHOHOL EFFECT RUMORS TRUE OR NOT?
शराब के सेवन से कैंसर होने का ख़तरा रहता है।

हर तरफ हम शराब के बारे में यही सुनते हुए आएं हैं की शराब का सेवन जानलेवा है। इस के ज़्यादा सेवन से हृदय से लेकर आपके लॅंग्स तक ख़राब हो जाते है। लेकिन आपको आजकल सोशल साइट्स पर कुछ ग़लत खबरें मिल रही हैं की शराब सेहत को हानि नहीं पहुँचाती है।

सोशल साइट्स पर अफ़वाहें-

Table of Contents

‘शराब के ज़्यादा सेवन से कैंसर नहीं होता’ आजकल सोशल साइट्स पर ऐसी खबरों का चलन चल रहा है। कोई बता रहा है की वाइन सेहत के लिए अच्छा है तो कोई कह रहा है कि इसके सेवन से कोई गंभीर नुकसान नहीं है। पर आपको ये जान के बेहद हैरानी होगी ये सब केवल अफ़वाहें हैं।

क्या कहती है रीसर्च-

हाल ही में हुई एक अध्ययन में इस बात से परदा उठा है, कि शराब की इंडस्ट्री बहला-फुसला कर लोगों को ध्यान भटकाने का प्रयास कर रही है कि शराब पीने से कैंसर नहीं होता। ये वही षड्यंत्र है जो तंबाकू की इंडस्ट्री अपनाती है। लंदन स्कूल ऑफ हाईजीन ऐंड ट्रॉपिकल मेडिसिन और स्वीडन के कैरोलिन्स्का इंस्टीट्यूट की तरफ़ से कराई गई एक रीसर्च में ये बात सामने आयी है, कि शराब इंडस्ट्री से जुड़ी कई संस्थाएं लोगों को ये बताने की कोशिश करती हैं कि शराब और कैंसर के बीच का संबंध बेहद कॉंप्लेक्स यानी की जटिल है और इन दोनों के बीच कोई लिंक है इस बात का कोई पुख्ता प्रमाण नहीं है।

नई अफ़वाह – शराब से तेज होती है याद्दाश्

स्टडी में यह बात भी सामने आयी है कि शराब इंडस्ट्री कई दूसरी तरीके भी अपनाती हैं, जिसमें कैंसर और शराब के सेवन के बीच किसी भी तरह के संबंध का खंडन किया जाता है। साथ ही सीमित मात्रा में शराब के सेवन से किसी तरह का नुकसान नहीं होता यह बात भी कही जाती है। लेकिन ये सब केवल अफ़वाह है ताकि इसकी बिक्री पर कोई असर ना पड़े। शराब इंडस्ट्री इस बात पर भी ध्यान देती है कि कई और चीजें हैं जिनसे कैंसर होने की आशंका रहती है जिसमें से शराब का सेवन एक वजह हो सकती है।

क्या कहना है वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइज़ेशन का-

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइज़ेशन की मानें तो यह एक कभी ना बदलने वाला तथ्य है कि शराब के सेवन से कैंसर होने का ख़तरा रहता है। इसके ज़्यादा सेवन से रिस्क भी होता है।

आपसे अनुरोध है की इन झूठी बातों पर ध्यान ना दे क्यूँकि शराब हर हाल मे खराब होती है। इसके सेवन से ना केवल आप ख़तरे मे रहते है बल्कि आपसे जुड़े हर इंसान को भी ये तकलीफ़ पहुँचाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here