विश्व मोटापा दिवस, सावधान हो जाये अगर आप भी हैं मोटापे का शिकार

0
279
WORLD OBESITY DAY
आज विश्व मोटापा दिवस है

आज विश्व मोटापा दिवस है, मोटापा एक बीमारी नहीं बल्कि कई बीमारियों का कारण है और आजकल मोटापे का शिकार केवल बडें ही नहीं बल्कि बच्चे भी हो रहे हैं। और मोटापे की वजह से शरीर मे कई खतरनाक बीमारियां हो जाता है और खासतौर से महिलाओं में मोटापा अधिक होता है। मोटापे की वजह से बच्चे भी काफी परेशान होते हैं और कम उम्र में बच्चों को कई खतरनाक बीमरियों का सामना करना पडता है।

डॉक्टर्स के मुताबिक, ये कई रोगों को जड़ है और आज विश्व मोटापा दिवस है चलिए जानते हैं इसी मौके पर मोटापा से होने वाली परेशानियों के बारे में और कैसे बचें मोटापे से।

मोटापे से होने वाली समस्यायें

  1. साँस फूलने की समस्या का होना मोटापे का लक्षण है जो कई कारणों से हो सकता है और कई रोगों का कारण बनता है।
  2. अचानक से बार-बार पसीना आना और वह भी बहुत, यह दर्शाता है कि व्यक्ति मोटापे से ग्रसित है।
  3. आमतोर पर मोटापे से बेहाल लोगों को नींद में बहुत खर्राटे लेते देखा जा सकता है मोटापा बढ़ने के साथ-साथ यह समस्या और भी बढ़ती जाती है।
  4. सामान्य रूप से कोई भी शारीरिक गतिविधि करने में असमर्थ होते जाने का संबध भी मोटापे से है और ये मोटापे का सबसे प्रमुख्य लक्षण भी हैं।
  5. आमतौर पर बिना किसी अतिरिक्त कार्यभार के लगातार थकान का अनुभव करना भी मोटापे का ही एक लक्षण है।
  6. मोटापे की समस्या से ग्रसित लोगों में पीठ और जोड़ों के दर्द सामान्य रूप से देखा जा सकता है।

क्या कहते हैं एक्सपर्ट

एक्सपर्ट बताते हैं कि मोटापे के कारण नॉन कम्युनिकेबल डिजीज हो सकती हैं, इनका कहना है कि भारत में मोटापे के रोगियों के साथ बड़ी समस्या यह है कि वह अपनी बीमारी को एक रोग नहीं मानते हैं और इसके गंभीर परिणामों की अनदेखी करते है मोटापा शारीरिक और मानसिक स्तर पर जीवन में कई सारे परिवर्तन लाता है, किन्तु कई बार लोग इन्हें महत्त्व नहीं देते और इसके बारे में कोई चिकित्सकीय परामर्श नहीं लेते जो आगे चलकर उनके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है।

आंकड़े
आंकड़े बताते हैं कि भारत दुनिया में तीसरा सबसे अधिक मोटी आबादी वाला देश है, भागदौड़ भरी जीवन शैली के साथ तेजी से बढ़ता शहरीकरण मोटापे के बढ़ते स्तरों के लिए मुख्य कारक है, हमारे देश में 10 प्रतिशत आबादी सामान्य मोटापे और 5 प्रतिशत आबादी अत्यधिक मोटापे की शिकार है। लेकिन मोटापे से आप स्वंय बच सकते हैं जरुरत है अपनी जीवन शैली को बदलने की कैसे अपनी जीवन शैली में बदलाव करें।

  1. रोज सुबह 1 घंटे जरुर टहले और अगर संभव हो तो व्यायाम और योग जरुर करें।
  2. नाश्ते समय पर करें ध्यान रखें कि नाश्ता हेल्दी हो ना कि फैटी।
  3. चिकनाई युक्त भोजन और ध्रूमपान और शराब के सेवन से बचें।
  4. जल्दी सोयें और सुबह जल्दी उठने की आदत डालें।
  5. समय-समय पर अपने बीपी, शुगर की जांच कराते रहें।
  6. मीठे से दूर रहें क्योंकि अत्यधिक मीठा शुगर का कारण होता है और इसकी वजह से आप मोटापा का शिकार हो जाते हैं।
  7. नींद पूरी करना बहुत जरुरी है और आठ घंटे की नींद अवश्य लें।

नॉन कम्युनिकेबल डिजीज

डॉक्टर्स के मुतबिक मोटापे की वजह से नॉन कम्युनिकेबल डिजीज के शिकार हो सकते है और इन बीमारियों में शामिल हैं- कार्डियोवस्कुलर रोग (जैसे कि दिल के दौरे और स्ट्रोक), कैंसर, पुरानी श्वसन रोग, डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर जैसी कई अन्य गंभीर बीमारियों का शिकार लोग हो जाते हैं।

तो यदि इन बीमारियों से आप बचना चाहते हैं तो आज से अपनी जीवनशैली बदलने का प्रयास करें, साथ ही अपने खान-पान की आदतों पर नियंत्रण रखे और मोटापें को दूर भगायें।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here