लिव इन रिलेशनशिप VS शादी, जानिए मज़ेदार बातों को

0
298
LIVE IN RELATIONSHIP
आज भी भारतीय समाज में लिव इन रिलेशनशिप को एक टैबू की तरह देखते हैं।

लिव-इन रिलेशनशिप, यानि एक जोड़े का बिना शादी के एक ही घर में साथ रहना। आज भी भारतीय समाज में इसे एक टैबू की तरह देखते हैं। लिव-इन रिलेशनशिप में रहने वालों की वालों की कई ऐसी बातें हैं जिसे सुनकर आपके चहरे पर मुस्कान तो आएगी ही साथ ही इसके बारे में कई बातें जानने को भी मिलेंगी। आइए जानते हैं क्या कहना है लोगो का लिव-इन रिलेशनशिप के बारे में।

1घरवालों को मनाना मुश्किल

घरवालों के मन में एक ही ख्याल आएगा कि पड़ोसियों को क्या मुँह दिखाएँगे

जैसे ही आप उन्हे ये कहेंगे कि आप रिलेशनशिप में हैं, उनकी सबसे पहली प्रतिक्रिया ये रहेगी ‘ पगला गए हो? उनके पैरों तले ज़मीन खिसक जाएगी। उनके मन में एक ही ख्याल आएगा कि पड़ोसियों को क्या मुँह दिखाएँगे। इसे सुनकर आज भी सोसायटी के बुद्धिजीव लोग नाक भों सिकोड लेते हैं। इसलिए इन सब के लिए अपने मन को पहले ही तैयार कर लें।

2जब आपको पता चलता है कि SC ने लिव इन रिश्ते को भी शादीशुदा मान लिया है

ज़रा अलर्ट हो कर ही लिव-इन रिलेशनशिप में रहें

Supreme Court ने अनुसार, अगर सोसायटी के प्रेमी युगल पति-पत्नी के तौर पर आते हैं, दोनों शादी की कानूनन उम्र को पूरा कर चुके हैं, दोनों के बीच के रिश्ते कानूनन रूप से शादी करने के लिए वर्जित नहीं है, और वह दोनों स्वेच्छा से लंबे वक्त तक पति-पत्नी के तौर पर रह रहे हैं, तो आप को भी शादी शुदा माना जाएगा। लड़की गुज़ारा भत्ता की भी हकदार होगी। इसलिए ज़रा अलर्ट हो कर ही लिव-इन रिलेशनशिप में रहें।

3लिव इन रिलेशनशिप में इंसेक्योरिटीज़ होती है

लिव इन रिलेशनशिप में शक होना आम बात है

क्या आपको नहीं लगता ऐसा? अब ये कोई लिव इन कपल्स से पूछो। गर्लफ़्रेंड को ज़रा भी शक हुआ तो घर से ऑफिस निकलने के 1 घंटे बाद फोन आता है कि ‘जानू कहा हो’ और आप कहते है कि ऑफिस में। भले ही आपकी बात सच हो लेकिन तुरत आपको वीडियो कॉल आ जाता है। अब टेक्नॉलॉजी का अविष्कार तो हुआ ही रिश्तों में भूचाल लाने के लिए है। वहीं शादीशुदा जोड़ों को एकदूसरे से अलग होने का डर बहुत कम होता है। यहाँ तो फोन का इस्‍तेमाल भी हमेशा बैट्री फुल करके एमेरजेंसी कॉल्स के लिए होता है।

4ज़रा सा झगड़ा भी ब्रेक-अप तक पहुंच सकता है

लिव इन रिलेशनशिप में ज़रा सी अनबन भी ब्रेकअप करा सकता है

आपकी किसी बात पर अनबन हो गई तो बस बात बात पर ब्रेकअप जैसी बातें होनी लगती हैं। वहीं शादी में आप ऐसा नहीं कर सकते क्योंकि लोगों की ज़िन्दगी की कमाई शादी में इन्वेस्ट कर दिए जाते हैं। तलाक़ की बात का परिवारों पर भी बड़ा असर पड़ता है।

5लिव-इन में रहने वाले पूरा दिन टेक्‍नोलॉजी पर मस्त होते हैं

टेक्नॉलॉजी का अविष्कार तो हुआ ही रिश्तों में भूचाल लाने के लिए है

शादीशुदा जोड़ों की बात करें तो उन्हे लगता है कि पहले जिम्‍मेदारियों को ही पूरा कर लें। बाद में फेसबुक, वॉटसॉप या चैटिंग के लिए वक्त निकाल लेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here