स्वस्थ रहने के लिए सबसे जरूरी है भरपूर नींद लेना

0
227

जैसा की हम सब जानते ही है, आज कल की बिजी लाइफस्टाइल और दिन भर ऑफिस में भागदौड़ से इंसान इतना परेशान हो जाता है कि रात में उसे ठीक से नींद नहीं आती है. ठीक से ना सो पाने के कारण आगे चलकर यह अनिद्रा नामक गंभीर बीमारी का रूप धारण कर लेता है. अनिद्रा की समस्या होने पर शरीर को और भी कई तरह के नुकसान होने लगते हैं जैसे कि इम्युनिटी का कमजोर होना, मोटापा बढ़ जाना इत्यादि. इसके अलावा रोजाना ठीक से ना सो पाने के कारण आपके दिमाग पर भी बुरा असर पड़ता है.अगर आप नींद न आने से परेशान हैं तो इसका सबसे प्रमुख असर आपके व्यवहार में दिखने लगता है. थोड़ी थोड़ी देर में मूड बदलना किसी पर गुस्सा करना ये सब आम लक्षण है. अगर आपको ऐसे लक्षण दिखने लगे तो बिना देरी किये डॉक्टर के पास जाकर अपनी जांच करवाएं. कम सोने की वजह से आपके सोचने समझने की क्षमता पर भी बुरा असर पड़ता है. सबसे पहले आपकी फोकस करने की क्षमता और किसी समस्या को हल करने के लिए ज़रूरी तार्किक क्षमता कमजोर होने लगती है और उसके बाद धीरे धीरे आपको चीजें टाइम पर याद नहीं आती है. जिससे आगे चलकर आपकी याद्दाश्त कमजोर पड़ने लगती है. जिससे आप कोई भी नयी चीज को सीखने में खुद को असमर्थ पाते हैं.

 

 

क्यों जरूरी है नींद 

हमारे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए पर्याप्त नींद बहुत ही जरूरी है. इंसान के शरीर को नींद की उतनी ही जरूरत है जितनी खाने पीने की. पर्याप्त नींद नहीं लेने से हमारी कार्यक्षमता पर भी बुरा असर पड़ता है.
हर उम्र में शरीर की नींद की अवधि की जरूरत बदलती है. नवजात शिशु 18 घंटे तक सोते हैं तो वयस्कों को औसतन आठ घंटे की नींद की जरूरत होती है.

पर्याप्त नींद के अभाव का सीधा असर हमारे शरीर की चयापचय प्रक्रिया (Metabolic Process) पर पड़ता है और इससे मधुमेह (Diabetes), वज़न का बढ़ना (Weight Gain), उच्च रक्त चाप (High Blood pressure) जैसी बीमारियां हो सकती हैं.

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here