रावण के प्रति आपकी सोच बदल देगा ये पोस्ट

0
349
ravana
रावण बहुत बड़ा शिव भक्त था

हिन्दू धर्म के सभी लोग राम, सीता और रावण के बारे में अच्छी तरह जानते होंगे। फिर भी रावण से जुड़े कुछ ऐसे तथ्य भी है जो शायद आपने कभी नहीं पढ़ें होंगे। सभी लोग दशहरा बड़ी धूम-धाम से मनाते है क्योंकि यह पर्व केवल एक त्यौहार ही नहीं है बल्कि बुराई पर अच्छाई की जीत है। हर कोई रावण को बुराई के रूप में देखते है क्योंकि रावण ने धोखे से सीता माता का अपरहण किया था। आज हम आपको रावण के बारे मे ऐसे तथ्य बताएँगे जिन्हे शायद ही आपने पहले कहीं और पढ़ा होगा।

1. रावण में काफ़ी योग्यताएॅं थी जैसे कि रावण एक कुशल राजनीतिज्ञ, सेनापति और वास्तुकला का मर्मज्ञ होने के साथ-साथ बहु-विद्याओं का ज्ञानी था।

2. रावण को मायावी इसलिए भी कहा जाता था क्योंकि वह इंद्रजाल, तंत्र, सम्मोहन और तरह-तरह के टोना-जादू के बारे में जानता था।

3. रावण एक बहुत बड़ा महापंडित था और इसी कारण भगवान राम ने उससे विजय यज्ञ करवाया था।

4. भगवान शिव ने खुद कहा था कि रावण बहुत बड़ा शिवभक्त है, उसकी भक्ति पर भगवान राम को भी कोई शक नहीं था।

5. रावण बहुत बड़ा और अच्छा राजा था, उसकी सोने की लंका में उसके राज्य वाले बहुत ज़्यादा खुश रहते थे। इसी कारण भगवान राम ने रावण के पास लक्ष्मण को भेजा था ताकि वह राजनीति और शास्त्रों का ज्ञानी प्राप्त कर सके।

6. रावण ने अंक प्रकाश, जादू, कुमारतंत्र, प्राकृत कामधेनु, प्राकृत लंकेश्वर, ऋग्वेद भाष्य, रावणीयम, नाड़ी परीक्षा आदि पुस्तकों की रचना की थी।

7. रावण ने अपना भाई धर्म निभाने के लिए सीता का अपरहण किया था, क्योंकि लक्ष्मण ने शूर्पणखा का अपमान किया और उसकी नाक भी काट डाली।

8. यद्यपि रावण ने सीता का हरण किया था, लेकिन उसने कभी भी अपने पुरूष होने का गलत फ़ायदा नहीं उठाया।उन्होंने दो साल तक सीता को बंदी बनाये रखा लेकिन सीता को कभी भी हाथ तक नहीं लगाया।

9. रावण एक वैज्ञानिक भी था। इंद्रजाल जैसी अथर्ववेदमूलक विद्या का रावण ने ही अनुसंधान किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here