बढ़ते नस्लवाद के खिलाफ भड़के अभिनव मुकुंद

0
298
Abhinav Mukund tweeted agains skin colour descrimination.
Abhinav Mukund

जब किसी के साथ नस्लवाद को लेकर आलोचना की जाती है तो वह बहुत ही दुखदायी
होती है, चाहे वो फिर किसी भी क्षेत्र में किसी को भी लेकर की गयी हो
माना जाता है कि खेल एक ऐसी अवधारणा है, जहां नस्लवाद प्रवेश नहीं कर
सकता. लेकिन बहुत ही अफसोस की बात है कि जब खिलाड़ी इसके शिकार बन गए.
खेल के क्षेत्र में  में नस्लवाद तेजी से बढ़ रहा है. हालांकि खिलाड़ियों
द्वारा इसकी लगातार निंदा भी जारी है. और कई खिलाडी भी नस्लवाद को लेकर
अपनी-अपनी प्रतिक्रिया देते आये हैं,

नस्लवाद के खिलाफ आवाज उठानेवालों की कड़ी में टीम इंडिया के सलामी
बल्लेबाज अभिनव मुकुंद का नाम जुड़ गया है. जिन्होंने ट्वीट कर नस्लवाद
पर कड़ा प्रहार किया है. उन्होंने पोस्ट लिखा है, ‘गोरे लोग ही सिर्फ
हैंडसम नहीं होते.’ साथ ही उन्होंने इस मानसिकता को बदलने पर जोर डाला
है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here