गौरी लंकेश की आंखें अब हमेशा देखती रहेगीं दुनिया को

0
236
Tuesday night shot dead outside her home in Bengaluru by attackers who fired seven times at close range.
गौरी लं‍केश

कन्‍नड़ साप्‍ताहिक अखबार की संपादक और वरिष्‍ठ पत्रकार गौरी लं‍केश की मंगलवार को हुई हत्‍या के बाद से देशभर के पत्रकार और संगठन अपना विरोध जता रहे हैं। पत्रकार गौरी की हत्‍या अभिव्‍यक्ति की आजादी पर हमला मानी जा रही है।

गौरी खुद इस दुनिया को अब नहीं देख सकती। मगर उन्‍होनें पहले ही बंगलुरू के मिंटो ऑप्‍थैल्मिक अस्‍तपाल को अपनी आंखे दान कर दी थी। गौरी के भाई इंद्रजीत लंकेश को अस्‍तपाल ने प्रमाणपत्र दिया है और अब गौरी की आंखें किसी के काम आ सकेंगी।

Senior journalist Gauri lankesh donate eyes
गौरी लं‍केश ने अपनी आंखे दान कर दी
गौरी का अंतिम संस्‍कार

गौरी लं‍केश के भाई इंद्रजीत ने बताया, कि उनका अंतिम संस्‍कार बेंगलुरू के चामराज पेट कब्रिस्‍तान में बुधवार को किया जाएगा। गौरी का पार्थिव शरीर लोगों के दर्शन के लिए समया बायालु रंगमंदिरा में रखा जाएगा।

इंद्रजीत ने जांच पर भरोसा जताया

मंगलवार को गौरी जब अपने ऑफिस से लौट रही थी, जब उनपर तीन अज्ञात लोगों ने हमला कर दिया। उनपर सात गोलियां चलाई गई, मगर तीन गोली उनको लग गई। बहुत करीब से गोली मारी गई, जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई। बेंगलुरु पुलिस आयुक्त टी सुनील कुमार ने यह जानकारी दी, कि हमलावरों के द्वारा चलाई गई गोलियों में से चार निशाने से चूक गईं थी और घर की दीवार पर जा लगीं। दो गोलियां उनके सीने में और एक गोली उनके सिर में लगी।

इंद्रजीत ने जांच में भरोसा जताया और कहा है, कि पिछली रात से जांच चल रही है। मुझे जांच पर पूरा भरोसा है, कि हत्‍यारे जल्‍द ही पकड़े जाएंगे। साथ ही कहा, कि पुलिस ने मंगलवार रात का सीसीटीवी फुटेज ले लिया है और हत्‍यारे जल्‍द ही पकड़े जाएंगे।

अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें:- वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की गोली मार कर हत्या

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here