आखिर क्यों भूतिया मानी जाती है शिमला की 33 नंबर सुरंग ?

0
895
ghost tunnel
सुरंग नंबर 33

यूँ तो आपने भूतों के किस्से बहुत सुने होंगे। ये किसी को मालूम नहीं कि भूत होते हैं कि नहीं पर जिस जिस ने भूतों को अपने आसपास महसूस किया है वो यही बोलते है कि भूत होते हैं। जीव जंतुओं के इलावा भी क्या प्रेत आत्माएं इस दुनिया में हैं इस बात का उत्तर देना शायद थोड़ा मुश्किल है। पर हमारे भारत में कुछ ऐसी जगह हैं जहाँ के लोग मानते हैं कि यहाँ आत्माएं रहती हैं। इस सवाल का उत्तर तो वही दे सकता है जिस ने अपनी आँखों से उनको देखा हो। भारत के हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में भी एक ऐसी ही कहानी सुनने को मिलती है जहाँ पर लोग मानते हैं कि यहाँ भूत ज़रूर दिखते हैं।

शिमला जो काफी ऊंचाई पर स्तिथ है वहाँ के लोग अक्सर भूत के होने की बातें करते हैं। वहाँ के स्थानीय लोग मानते हैं कि शिमला से कालका अगर हम ट्रेन से सफर करें तो रास्ते में बरोग नाम की जगह के पास 33 नंबर सुरंग आती है, जिसे शिमला की सबसे भूतिया जगह माना जाता है। लोगों ने काफी बार इस गुफा से चिलाने की आवाज़ें और किसी के चलने की आवाज़ें सुनी है।

आखिर क्या कहानी है इस सुरंग की ?
माना ये जाता है कि यह सुरंग आज से कुछ सालों पहले एक इंजीनियर बरोग द्वारा बनाई जा रही थी तो इस सुरंग के दूसरी तरफ बरोग एक और सुरंग इस सुरंग के साथ जोड़ना चाहते थे। उस ज़माने में ज्यादा उपकरणों के ना होने से बरोग इस सुरंग को बनाने में नाकाम हुए जिसके बाद उन्हें ब्रिटिश सरकार ने निकाल दिया। बरोग उस के बाद इतने दुखी हो गए कि उन्होंने इस सुरंग में जाकर अपने आप को गोली मारकर अपनी जान दे दी। उस दिन के बाद काफी लोग इस सुरंग में गये। कुछ लोगों को किसी के चिलाने कि आवाज़ें आयी तो कुछ को अंदर किसी चीज़ का एहसास नहीं हुआ| इसे भूत या आत्मा कहें कि लोगों का भ्रम इस सुरंग में तो आज भी अंदर जाने से सब मना कर देते हैं।

कहा ये भी जाता है कि बहुत से लोग इस सुरंग में अपनी जान गवा चुकें हैं जिसके बाद इस गुफा में कोई अकेला नहीं जाता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here