ये रहे भारत में शीर्ष 10 सबसे शिक्षित राज्य

0
2719
study in india
पढ़े लिखे राज्य

भारत में शिक्षा का कितना महत्व है ये आजकल काम काज कर रहे लोगों से बढ़िया और कौन जानता होगा। शिक्षा हमे इस काबिल बनाता है की हम अपनी ज़िन्दगी में कुछ अच्छा कर सकें और दूसरों की सहायता कर सकें। एक शिक्षित व्यक्ति एक अच्छा इंसान तभी बनता है अगर उसे अच्छी शिक्षा मिली हो जो आज कल हमारे भारत में कुछ राज्यों में दी जा रही है।

पर कुछ ऐसे राज्य भी हैं जहाँ शिक्षा को कोई महत्व नहीं दिया जाता और उसे एक शाप माना जाता है। आज हम भारत के सबसे शिक्षित राज्यों की बात करेंगे जो इस वक़्त भारत के शेष 10 सबसे शिक्षित राज्य हैं।

  1. केरल-केरल की साक्षरता दर 93.9 1% है जो 2001 की जनगणना से 3% अधिक है। भारत में केरल सबसे ज्यादा शिक्षित राज्य है
  2. लक्षद्वीप– लक्षद्वीप की साक्षरता दर 92.28% है जो 2001 की जनगणना से 5.62% अधिक है। 
  3. मिजोरम– मिजोरम की साक्षरता दर 91.58% है जो 2001 की जनगणना से 2.78% अधिक है।
  4. त्रिपुरा- त्रिपुरा की साक्षरता दर 87.75% है जो 2001 की जनगणना से 14.56% अधिक है। त्रिपुरा जनगणना में पहले 14 वे स्थान पर था जिसके बाद वह 2011 की जनगणना में 3 स्थान में आ गया।

5. गोवा– गोवा की साक्षरता दर 87.40% है जो 2001 की जनगणना से 5.3 9% अधिक है। 2001 में भारत में यह      चौथा सबसे शिक्षित राज्य था।

6. दमण एवं दीव -दमण एवं दीव की साक्षरता दर 87.07% है जो 2001 की जनगणना से 8.8 9% अधिक है।

7.पुडुचेरी-पुडुचेरी की साक्षरता दर 86.55% है जो 2001 की जनगणना से 5.31% अधिक है। 2001 की           जनगणना में 8 वीं से 2011 की जनगणना में 7 वें स्थान पर। सकारात्मक एक कदम आगे।

8.चंडीगढ़-चंडीगढ़ की साक्षरता दर 86.43% है जो 2001 की जनगणना से 4.4 9% अधिक है।

9.दिल्ली-दिल्ली की साक्षरता दर 86.34% है जो 2001 की जनगणना से 4.67% अधिक है। भारत की राजधानी पहले 6 वें सबसे शिक्षित भारत राज्य था।

10.अंडमान एवं निकोबार-अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह की साक्षरता दर 86.27% है जो 2001 की जनगणना से 4.97% अधिक है।

ये राज्य सबसे ज्यादा पढ़े लिखे राज्य है भारत में और शायद इस प्रकार से और राज्य भी पढाई लिखे में आगे बढ़े इसके   जानने के बाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here