महाराष्ट्र पंचायत चुनाव के लिए राहुल का नादेड़ दौरा आज

0
233
Maharashtra Election

मध्य प्रदेश में किसानों पर हमले के बाद राहुल गांधी महाराष्ट्र में किसानों की मौत पर मोदी सरकार पर बरसते हुए नजर आ रहे हैं। कांग्रेस के युवाराज राहुल गांधी शुक्रवार को महाराष्ट्र के नादेड़ दौरे पर पहुंचे।महाराष्ट्र में करीह 7 हजार सीटों पर ग्राम पचांयतों के चुनाव है। ऐसे मे राहुल गांध के इस दौरे कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं।नादेड़ में अपने एक दिवसीय दौरे पर राहुल ने कहा कि मैं समझता हूं कि देश को अगर उधोगपतियों की जरुरत है तो किसानों की भी उतनी ही जरुरत है।महाराष्ट्र में पिछले 3 सालों के दौरान 9 हजार से ज्यादा किसान आत्म हत्या कर चुके हैं। माना जा रहा है कि किसान आत्म हत्या का मामला उठा कर राहुल ने किसानों की दुखती रग पर हाथ रख दिया है।

महाराष्ट्र पंचायत चुनाव कांग्रेस के लिए संजीवनी

7 हजार सीटों पर है चुनाव
कांग्रेस की साख से जुड़ा है महाराष्ट्र पंचायत चुनाव

महाराष्ट्र में 7 और 14 अक्टुबर को दो चरणों में पंचायत चुनाव होने हैं। करीब 7575 सीटों के लिए होने वाले ये चुनाव कांग्रेस के लिए काफी महत्वपूर्ण है। कांग्रेस अगर इन चुनावों में कुछ बेहतर कर पाती है तो ये परिणाम कांग्रेस के लिए एक संजीवनी का काम करेंगे। राज्य मे बीजेपी सरकार के खिलाफ माहौल बनाने में जुटी कांग्रेस किसानों की आत्म हत्या को हाल ही में मध्य-प्रदेश में हुए किसान आंदोलन से जोड़कर पेश कर रही है। कांग्रेस का मानना है कि बीजेपी उत्तर-प्रदेश मे दिखावे के लिए किसान लोन माफी का दिखावा कर रही है। उत्तर-प्रदेश में गन्ना किसानों की हालत बद से बदतर होती जा रही है। कांग्रेस राहुल गांधी के सहारे पंचायत चुनावों की नैय्या पार लगाने की जुगत में है। ऐसे मे राहुल का नादेड़ दौरा काफी महत्वपूर्ण है। राहुल नांदड़ जिले के कृषि उत्तपन्न बाजार समिति ग्राउंड में स्थानीय नेताओँ से मुलाकात कर रहे थे।

 

नोटबंदी – जीएसटी ने तोड़ी कमर 

नोटबंदी और जीएसटी का असर
जीएसटी से किसानों की समस्या बढ़ी

देश में नोट बंदी के खिलाफ आवाज उठाने वाले राहुल गांधी नांदेड़ में भी नोटबंदी पर मोदी सरकार को घेरते हुए नजर आये। राहुल के अनुसार नोटबंदी सिर्फ भ्रष्ट्र लोगों का काला धन सफेद करने की एक सोची समझी योजना थी। कांग्रेस के अनुसार जिस वक्त नोटबंदी की उस वक्त किसानों की फसल बुआई का समय था। किसानों को खेती के लिए बीज और संसाधन खरीदने के लिए पैसों की सख्त जरुरत थी ऐसे में मोदी सरकार ने नोटबंदी करके किसानों के सामने रोजी –रोटी का संकट पैदा कर दिया। आपको बता दें की नोटबंदी के दौरान महाराष्ट्र के किसानों को काफी पेरशानी झेलनी पड़ी थी। ऐसे में पंचायत चुनाव से पहले राहुल किसानों के बीच उनके मुद्दें उठाकर अपनी ईमेज को और मजबूत करने में जुटे हैं। राहुल गांधी के अनुसार नोटबंदी के बाद रही सही कसर जीएसटी ने पूरी कर दी । जीएसटी से देश में कृषि उत्पादों की कीमत बढ़ा दी है। किसानों को जीएसटी की वजह से हर सामान महंगा खरीदना पड रहा है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here