जो रवीश कुमार के साथ हुआ वो आप के साथ भी हो सकता है

0
270
Journalist Ravish Kumar
रवीश कुमार

आज वक्‍त में एक विचारधारा के लोग किसी के भी नाम पर फर्जी चीजें चला देते हैं। सोशल मीडिया के बाजार में वो तेजी से बिकता है। एक विचाराधारा के लोग हर पत्रकार को गालियां देते ही हैं। ऐसा ही कुछ यूट्यूब पर ट्रेंड कर रहा है। कल से यूट्यूब पर NDTV के सीनियर एक्ज़ीक्यूटिव एडिटर रवीश कुमार की एक वीडियो फर्जी हेडलाइन के साथ चल रही है।हेडलाइन में लिखा था, कि रवीश ने प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी को गुंडा कहा है।

इसी वीडियो को लेकर कांग्रेस पार्टी के नेता दिग्वि‍जय सिंह ने ट्विटर पर एक ट्‍वीट किया, जिसमें लिखा था, रवीश कुमार ने प्रधानमंत्री को गुंडा कहा और साथ में वीडियो का लिंक भी दिया था।

लेकिन कुछ ही घंटे बाद दिग्व‍िजय सिंह ने ट्व‍ीट कर के कहा, कि रवीश ने प्रधानमंत्री के प्रति कोई अपशब्‍द का उपयोग नहीं किया है। साथ ही लिखा है, कि यूट्यूब पर जो रवीश का भाषण था वह मैनें ट्‍वीट किया था, रवीश जी क्षमा करें।

इस पूरे मामले में रवीश कुमार ने फेसबुक पर एक पोस्‍ट किया। जिसमें उन्‍होने अपने विचार रखे पढिये पोस्‍ट।

दरअसल, मंगलवार को पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के बाद दिल्ली स्थित प्रेस क्लब में पत्रकारों ने एकत्र होकर अपने-अपने विचार रखे थे। और उन्हीं में रवीश कुमार ने भी इस बात पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जवाब मांगना था, कि गौरी लंकेश की मृत्यु के बाद उन्हें अपशब्द कहने वाले कुछ लोगों को प्रधानमंत्री ट्विटर पर क्यों फॉलो करते हैं।

ऐसा नहीं है, कि ये सिर्फ रवीश कुमार के साथ हुआ है। बल्कि कल आप के साथ भी हो सकता है इसलिए फर्जी ख़बर या जानकारी आगे देने से पहले खुद जांच करें।

सुनिए रवीश कुमार का पूरा भाषण।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here