मेड इन चाइना की मिठास हुई कम…

0
116
export decrease
चीन के निर्यात में लगातार गिरावट

कई महीनो से “मेड इन चाइना” के अगेंस्ट भारत में कैम्पेन देखा जा रहा था और उसका असर अब अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी देखने को मिल गया। बता दे की, हाल ही में आई अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष की रिपोर्ट में अनुमान जताया गया है कि, इस साल चीन की आर्थिक वृद्धि दर घटकर 6.6 प्रतिशत पर आ जाएगी।इसका मुख्य कारण है,चीन की निर्यात में कमी आना।जबकि चीन के आयत दर में लगातार वृद्धि हो रही है।चीन का आयात 13.3 प्रतिशत बढ़कर 157.2 अरब डॉलर पर पहुंच गया है, वही निर्यात वृद्धि दर घटकर 6.6 प्रतिशत पर आ जाएगी, जो पिछले साल 6.7 प्रतिशत रही थी।2018 में यह और घटकर 6.2 प्रतिशत रह जाएगी। विस्तृत आंकड़े जारी नहीं किए गए हैं, मगर चीन के निर्यात में लगातार गिरावट देखी जा रही है।

आपको बता दे कि,भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक साझीदार चीन ही है। हर वर्ष लगभग 70.72 बिलियन डॉलर का व्यापार भारत चीन से करता है, जिसमे 9.01 बिलियन डॉलर का निर्यात तथा 61.71 बिलियन डॉलर का आयात शामिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here