जीएसटी से बैंकिंग सेवाओ में भी पड़ा असर, 15 फीसदी से 18 फीसदी हुआ टैक्स।

0
195

जीएसटी लागू होने के साथ ही बैंकिंग सेवाएं भी महंगी हो गई हैं, जिसका असर हिमाचल में साफ देखा जा रहा है. अब सभी प्रकार की बैंकिंग सेवाओं पर 18 फीसदी जीएसटी वसूला जा रहा है. आपको बता दे पहले इन सेवाओं के लिए ग्राहकों से 15 फीसदी सेवाकर और सेवाकर पर दो फीसदी शिक्षा उपकर लिया जाता था. इन सेवाओं में एटीएम, क्रेडिट और डेबिट कार्ड, आरटीजीएस, एनईएफटी, वॉलेट से खाते में ट्रांसफर, न्यूनतम बैलेंस न रखने और चैक बाउंस पर पेनाल्टी सहित ड्राफ्ट बनवाना शामिल है. दरहसल इन सेवाओं के लिए अब पहले के मुकाबले तीन फीसदी अतिरिक्त सर्विस टैक्स जीएसटी के रूप में देना होगा. बैंकरों की मानें तो जीएसटी का बोझ सीधे तौर पर ग्राहकों पर पड़ा है और बैंकिंग सेवाएं महंगी हुई है.

शिमला के एक नेशनल बैंक के मैनेजर ने बताया कि जीएसटी लागू होने से बैंक उपभोक्ताओं पर अतिरिक्त बोझ पड़ेगा. उन्हें ड्राफ्ट बनाने से लेकर अन्य सेवाओं के लिए पहले के मुकाबले ज्यादा पैसे देने होंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here