गुटखा किंग दिलबाग अरोड़ा की पोती सड़क पर मांग रही है भीख

0
459
गुटखा व्यापारी
भीख मांग कर गुजारा कर रही है गुटखा व्यापारी की पोती

गले में तख्ती लटका कर भीख मांग रही ये लड़की देश के नामी गुटखा व्यापारी दिलबाग अरोड़ा की पोती है। कानपुर शहर के सांई धाम मंदिर के बाहर भीख मांग रही इस लड़की को देखकर हर कोई हैरान है। इस लड़की का दावा है कि वो मशहुर गुटखा व्यापारी दिलबाग अरोड़ा के बेटे अरुण अरोड़ा की बेटी है। इस लड़की के अनुसार अरुण अरोड़ा ने शादी के तीन साल बाद ही उनकी मां को तलाक दे दिया था और तलाक के बाद से ही इनके परिवार की आर्थिक हालत बेहद खस्ता है। ऐसे में मजबूरी में इसे भीख मांगनी पड़ रही है। इस लड़की का कहना है कि वो अपनी मां को उनका कानूनी हक दिलाकर ही चैन से बैठेंगी।दिलबाग अरोड़ा दिलबाग गुटखा और पान मसाला के नाम से देश भर में मशहुर हैं।

आपको बता दें कि इस लड़की का नाम काजल है और यह कानपुर में बीएससी सेंकड़ ईयर की स्टूडेंट है। कानपुर के साकेत नगर में रहने वाली काजल की मां का नाम रितु अरोड़ा है। काजल का आरोप  है कि तलाक के बाद उनके पिता ने उनकी मां को पूरा कानूनी हक नहीं दिया। जिस वजह से उन्हे मजबूरी में भीख मांग कर लोगों का ध्यान अपनी इस समस्या की तरफ दिलाना पड़ रहा है।

 

क्या है रितु के तलाक का मामला

अरु़ण अरोडा की पूर्व पत्नी रितु मीडिया से बातचीत करते हुए

 काजल के अनुसार उनके दादा ज्ञानेंद्र जौहरी कस्टम इंस्पेक्टर थे। नौकरी से रिटायर होने के बाद उन्होने दिलबाग गुटखा फैक्ट्री ज्वाइन की। काजल कहती हैं कि उनकी मां रितु और दिलबाग ग्रुप के चेयरमैन के बेटे अरुण अरोड़ा से उनकी नजदीकी बढ़ी और ये नजदीकी शादी में तब्दील हो गई।  काजल की मां रितु के अनुसार जब उनकी शादी हुई तब उनकी उम्र महज 20 साल थी। अरुण ने अपनी पहली पत्नी को तलाक देकर रितु से शादी की थी। रितु की माने तो 1996 में अरुण अरोड़ा ने उन्हे यह कह कर तलाक दे दिया कि वो अपना समय पूजा-पाठ में लगाना चाहते हैं। इस दौरान रितु एक बेटी की मां बन चुकी थीं। रितु के मुताबिक उनके पति ने कम्पन्सेशन के नाम पर महज पौने दो लाख रुपए दिए थे।

काजल कहती है कि वो हर उस जगह पर जाकर भीख मांगेगी जहां दिलबाग ग्रुप की कोई भी इंडस्ट्री होगी। काजल की मां रितु के अनुसार उनके पूर्व पति इस उम्र में भी तीसरी शादी का प्लॉन बना रहे हैं। ऐसे में जिस आधार पर उन्हे तलाक दिया गया था वो आधार अब बेतुका है।

काजल को मिलेगा अधिकार!

काजल को कानून से आस

सड़क पर भीख मांग रही काजल के अनुसार वो तब तक सड़क पर रहेंगी जब तक उन्हे उनका हक नहीं मिल जाता। काजल कहती हैं कि जब नारायण तिवारी के बेटे शेखर तिवारी दत्तक पुत्र होकर अपना हक ले सकते हैं तो वो फिर कानूनी रुप से बेटी होकर अपना हक क्यों नही ले सकती ।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here