नोटबंदी और जीएसटी के दौरान मालामाल हुए ,7 सांसद और 98 विधायक

0
134
CBDT IN TENSION
देश में नेताओँ की लगातार बढ़ती संपत्ति से सीबीडीटी चिंतित

एक तरफ देश भर के लोग नोटबंदी और जीएसटी के बाद खुद को ठगा हुआ महसुस कर रहे हैं तो दूसरी तरफ देश के नेता नोटबंदी के बाद से लगातार मालामाल होते जा रहे हैं। नेताओँ की संपत्ति से जुड़े हलफनामे को लेकर सुप्रीम कोर्ट में कुछ नेताओँ की संपत्ति में दिन दुगौनी रात चौगुनी बढ़ोत्तरी होने की बात सामने आयी है। हालांकि कोर्ट में खुद केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड( सीबीडीटी) ने माना है कि देश के 7 लोक सभा सांसदों की संपत्ति में दो चुनावों के बीच बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है।

दरहसल, सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका के माध्यम से आरोप लगाया गया है कि देश के लगभग 26 लोक सभा सांसद, 11 राज्य सभा सांसद और 257 विधायकों की संपति में दो चुनावों के बीच बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है. CBDT ने कोर्ट में सौंपी अपनी रिपोर्ट में कहा है कि IT डिपार्टमेंट ने इस मामले की जांच की  है। इस जांच में भी ये बात सच पायी गई है कि 26 लोकसभा सांसदों में से 7 लोक सभा सांसदों की संपत्ति में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है। बोर्ड ने कोर्ट में आशवासन दिया है कि आयकर विभाग इन 7 सांसदों की संपत्ति में बेतहाशा बढ़ोतरी को लेकर आगे की जांच कर रहा है।

कोर्ट के समक्ष CBDT ने कहा है कि 257 विधायकों में से 98 विधायकों की संपत्ति में भी बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है और इस बाबत जांच की जा रही है। आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र नोदी देश भर के लोगों को नैतिकता और देश प्रेम का पाठ पढ़ा रहे हैं। ऐसे में देश में सांसदों और विधायकों पर हो रही पैसों की बरसात आम लोगों को मुंह चिढ़ा रही है। हालंकि सीबीडीटी ने कोर्ट में पेश की अपनी रिपोर्ट को अभी मीडिया के साथ साझा नहीं किये है जिससे आम लोगों तक इऩ नेताओं के नाम नहीं पहुंच पा रहे हैं। वैसे सीबीडीटी का कहना है सुरक्षा कारणों के चलते अभी नाम मीडिया में साझा नहीं किये गये हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here