कबूतर के बिना टिकट यात्रा करने पर इस बस के कंडक्टर का कटा चालान ।

0
232
pigeon journey
कबूतर के बिना टिकट यात्रा का अनोखा मामला

बस में यात्रा करने पर टिकट तो हम सभी लोग लेते हैं, लेकिन कैसा लगेगा जब किसी ऐसे कि टिकट लेने के लिए आपसे कहा जाये, जो आपके साथ आया ही न हो। उस पर भी जिसकी टिकट लेने के लिए कहा जाये वो कोई व्यक्ति न होकर, कोई उड़ने वाला पक्षी हो..जी हां सुनने में थोड़ा अटपटा जरुर है लेकिन यह सच है। इन दिनों तमिलनाडु का एक ऐसा ही मामला सोशल मीडिया में काफी वायरल हो रहा है। इस मामले में एक व्यक्ति को बस में सफर के दौरान उसकी खिड़की पर एक कबूतर के बैठे होने पर  की वजह से काफी परेशान किया गया। यह वाकया तमिलनाडू स्टेट ट्रांस्पोर्ट कॉरपोरेशन की बस में हुआ है। जिस वक्त ये वाकया हुआ, उस समय यह बस हरुर से एलावड़ी की ओर जा रही थी। इस यात्रा के दौरान बीच रास्ते में टिकट चेकर चढ़ गये। इऩ चैकर्स को टिकट चैकिंग के दौरान एक यात्री की खिड़की वाली साईड़ पर एक कबूतर बैठा दिखा। इस पर टिकट चेक करने वाले कर्मचारियों ने उस यात्री से कबूतर की टिकट दिखाने को कहा, इस पर यात्री ने इस कबूतर को अपने साथ होने से ही मना कर दिया। यात्री का तर्क था कि यह कबूतर कहीं से उड़कर बस की खिड़की पर बैठ गया है। ऐसे में वो उसकी टिकट क्यों ले ?

कंडक्टर को जारी किया नोटिस

इस कबूतर के बारे में जब चैकर्स ने कंडक्टर से पूछा तो कंडक्टर का कहना था कि जब यह यात्री बस में चढ़ा था तो इसके पास कबूतर नहीं था। बाद में ये इसकी खिड़की पर कैसे आ गया, इसे नहीं पता। हालांकि टिकट चेक करने वाले अधिकारियों ने परिवहन विभाग के नियमों का हवाला देते हुए कंडक्टर की गलती मानते हुए उसे नोटिस जारी कर दिया। तमिलनाड़ू परिवहन निगम के नियमों के मुताबिक अगर किसी यात्री के साथ यात्रा के दौरान कोई जानवर या पक्षी बस में सफर करता है तो उसका टिकट लेना अनिवार्य है। हालांकि कंडक्टर की गलती मानते हुए अधिकारियों ने कंडक्टर के खिलाफ नोटिस जारी कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here