जानिये क्या कहा सुषमा स्वराज ने रूस के बारे में …..

0
122
सुषमा स्वराज का रूस में हुआ स्वागत

भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज इन दिनों रूस के दौरे पर थी| वहा वे पूर्वी आर्थिक मंच के सम्मलेन में भाग लेने गई थी| इसी दौरान उन्होंने पूर्वी आर्थिक मंच के, भारत-रूस व्यापार संवाद में दोहराया कि, नई दिल्ली की पहली प्राथमिकता रूस के साथ कूटनीतिक और आर्थिक सम्बन्ध है| साथ ही कहा कि दोनों देशो की दोस्ती 7 दशक पुरानी है| आगे बढ़ते हुए उन्होंने कहा कि, रूस के साथ भारत के सम्बन्ध हाल ही में और ज्यादा मजबूत हुए है तथा हमारी मित्रता से सारा विश्व परिचित है|

 ECONOMIC RELATIONS
मजबूत होते भारत रूस संबंध

आपको बता दे की “सेंट पीटर्सबर्ग में इस वर्ष जून में आयोजित फोरम में भारत को मेहमान देश का दर्जा दिया गया था.” तथा भारत ने भी अपने हर प्रमुख कार्यक्रमों में रूस को प्राथमिकता दी है| विदेश मंत्री ने कहा कि भारतीये विदेश नीति ने हमेशा आर्थिक संबंधो को प्राथमिकता दी है, इसी कड़ी में भारत रूस के साथ ज्यादा व्यापार, वाणिज्य एवं निवेश करेगा|यह द्विपक्षीय व्यापार 2025 तक 30 अरब डॉलर तक पहुचाने की कोशिश की जाएगी|

बता दे कि, सरकारी आकड़ो के अनुसार हर साल भारत रूस को लगभग 1.6 बिलियन डॉलर का निर्यात करता है तथा लगभग 4.5 बिलियन डॉलर रूस  से आयात करता है| भारत की कुल जीडीपी में रूस का 2 ट्रिलियन डॉलर योगदान है तथा भारत, रूस की कुल जीडीपी में 1.3 ट्रिलियन डॉलर का हिस्सेदार है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here